09 अगस्त 2019: केंद्रीय स्वास्थ्य एवंं परिवार कल्याण, विज्ञान एवंं प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि सरकार व्यापारियों के हितों का पूरा ख्याल रखेगी और व्यापार को बढ़ावा देने के लिए जो भी करना होगा उसे जरूर करेगी। यह बात आज उन्होंने भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के 38वें राष्ट्रीय व्यापार दिवस एवं महासम्मेलन में कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में सरकार हर कदम पर व्यापारियों के साथ है और उनकी समस्याओं को दूर करने के लिए निरंतर प्रयासरत है।



इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। आज देश भर से आए व्यापारी यहां शामिल हैं जिन्होंने व्यापार के क्षेत्र में कई कार्य किए हैं। आज का दिन स्वतंत्रता की दृष्टि से भी काफी महत्वपूर्ण है और इस अवसर पर मैं सभी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को नमन करता हूं। उन्होंने कहा कि व्यापार मंडल के सबसे बड़े नेता मनोहर लाल जी, बालकृष्ण अग्रवाल जी, विजय प्रकाश जैन जी, राम गोपाल गोयल जी के अलावा कई व्यापारी यहां मौजूद हैं, जिन्होंने निस्वार्थ भाव से दिल्ली के विकास में अतुलनीय योगदान दिया है|

Dr Harsh Vardhan was addressing a press conference on the NMC Act 2019 at Delhi. He said that he is extremely grateful to the Hon’ble Prime Minister under whose strong leadership the National Medical Commission Act has finally seen the light of the day. He stated that the NMC Act is progressive legislation which will reduce the burden on students, ensure probity in medical education, bring down costs of medical education, simplify procedures, help to enhance the number of medical seats in India, ensure quality education, and provide wider access to people for quality healthcare. He said it is a game-changing reform of transformational nature. He said he is sure that under the NMC, medical education in the country will attain its zenith in the years to come.

उन्होंने कहा 2014 में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की सरकार बनाने में व्यापारियों का बड़ा योगदान रहा। व्यापारियों को सरकार द्वारा लाए गए जीएसटी और नोटबंदी से परेशानियां हुई लेकिन उसके बाद भी व्यापारियों ने सरकार के इन फैसलों को समाज और देश हित में मानकर उनका भरपूर समर्थन किया। हमारी सरकार ने जीएसटी पर जितने भी सुझाव आए उनको माना और लागू किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की हमेशा ये मंशा रही कि हमें देश को आगे बढ़ाने के लिए रिफार्म करने हैं लेकिन साथ साथ लोगों की समस्याओं का समाधान भी करना है।