केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने आज दिल्ली में भारत रत्न, लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल जी की जयंती, राष्ट्रीय एकता दिवस पर RunForUnity को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित इस एकता दौड़ कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन भी मौजूद रहे। इस अवसर पर गृहमंत्री व बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि देश के आजाद होने के बाद अंग्रेजों ने देश को 550 से ज्यादा रियासतों में बांटने का काम किया था। लेकिन सरदार वल्लभभाई पटेल ने एक के बाद एक रियासत को देश के साथ जोड़ने का काम किया।



केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सरदार पटेल न केवल आजादी के एक बड़े सेना नायक थे बल्कि भारतीयता के प्रतीक भी थे। हर काम में दूरदर्शिता और देशभक्ति को कैसे शामिल किया जा सकता है, ये सब सरदार साहब के जीवन से सीखा जा सकता है।

लौह पुरुष के बारे में बताते हुए केंद्रीय गृह मंत्री व बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि सरदार पटेल ने भारत को अखंड बनाया पर जम्मू-कश्मीर के रूप में एक कसक छूट गयी थी। जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर को धारा 370 के अभिशाप से मुक्त कर सरदार साहब के अधूरे सपने को पूरा कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

आज देश की पूर्व पीएम स्व इंदिरा गांधी जी की भी पुण्यतिथि है और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उनको भी श्रद्धांजलि दी और कहा सरदार पटेल जी को देश की आजादी के बाद कई वर्षों तक उचित सम्मान नहीं मिला लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल की प्रतिमा बनाकर उन्हें वो सम्मान दिया।

इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस के नए मुख्यालय का उद्घाटन भी किया। उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली पुलिस को बधाई देता हूं कि 70 साल के बाद वो अपने खुद के घर में पहुंचे हैं। दिल्ली पुलिस को 70 साल बाद खुद का मुख्यालय मिला है। शहीदों को याद करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी जी के प्रधानमंत्री बनने के बाद दिल्ली में एक बड़ा पुलिस स्मारक बनाया गया है। और उन्होंने जनता से अपील भी की कि जब भी दिल्ली आएं तो इस स्मारक में जरूर जाएं। वहां आपको पता लगेगा कि कितने पुलिस के जवानों ने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया।

एकता की दौड़ कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन के साथ पार्टी के सांसदों और पदाधिकारियों ने अपने देश की एकता की भावना के लिए एक शपथ ली, जिसे सरदार वल्लभभाई पटेल, उनकी दूरदर्शिता और कार्यों द्वारा संभव बनाया जा सका। इस दौरान केंद्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुरक्षित करने के लिए अपना योगदान करने का भी सत्य निष्ठा से संकल्प करता हूं।’’

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि एक भारत की कल्पना को सरदार पटेल ने साकार किया। पूरी दुनिया मानती थी कि 550 से अधिक रियासतों में बंटा हिंदुस्तान कैसे एक रह सकता है, कैसे प्रगति कर सकता है। लेकिन सरदार पटेल ने देश को एक करने की कमान सम्भाली और आज पूरी दुनिया उस एक भारत को श्रेष्ठ भारत बनते देख रही है।