नई दिल्ली, 24-06-2020: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने आज स्वास्थ्य मंत्रालय में एक कार्यक्रम में भारत में टीबी की स्थिति पर India TB Report 2020 जारी करी। उन्होंने स्पष्ट किया कि कोरोना काल में भी सरकार ने टीबी के खिलाफ़ ज़ंग को कमज़ोर नहीं होने दिया है।



वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में India #TB Report 2020 जारी किए जाने के मौके पर उन्होंने टीबी रोग उन्मूलन कार्यक्रम के क्रियान्वयन में अच्छा प्रदर्शन करने वाले राज्यों गुजरात, आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, नागालैंड व केन्द्र शासित प्रदेशों में दादरा नागर हवेली को बधाई दी

डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि देश में टीबी को जड़ से समाप्त करने के लिए बहुत काम हो रहा है। आज पूरे देश में निचले स्तर तक टीबी के नियंत्रण के लिए विस्तार किया गया है और देश भर में TB-DOTS के कार्यक्रम चल रहे हैं।

रिपोर्ट की चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि 2019 में लगभग 24.04 लाख टीबी रोगियों को अधिसूचित किया गया है जो कि वर्ष 2018 के मुकाबले 14% अधिक हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने बताया कि टीबी के लापता मामलों की संख्या घटकर 2.9 लाख हो गई है।

उन्होंने बताया कि आज molecular diagnostic techniques का इस्तेमाल करने के लिए देश के दूरदराज के क्षेत्रों में मशीनें पहुंचा दी गईं हैं। इसके कारण टीबी के निदान वाले बच्चों की पहचान आसान हो गई है और इसका अनुपात बढ़कर 8% हो गया है।

डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि दुनिया की रफ़्तार थामने वाले घातक वायरस COVID__19 को जब भारत 4-5 महीनों में ही काबू कर सकता है तो टी बी को नियंत्रित करना कोई बहुत बड़ी बात नहीं।