05 अक्टूबर 2019: केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज अपने संसदीय क्षेत्र के मॉडल टाउन में ओरियन्टल बैंक ऑफ कॉमर्स, जीटी करनाल रोड पर ग्राहक मेला कैम्प का शुभारम्भ किया। इस कैम्प का शुभारंभ करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में सरकार बनाने के बाद सबसे पहले गरीब लोगों को बैंकों से जोड़ने का काम किया ताकि बैंकिग सुविधाओं का लाभ सभी को मिल सके। देश के गरीबों को बैंकिग सुविधाओं का लाभ लेने के लिए 2014 तक प्रधानमंत्री मोदी का इंतजार करना पड़ा इससे पहले की सरकारों ने इस संबंध में कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने गरीबों के जनधन खाते खुलवाए जिससे सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का पैसा सीधे उनके खाते में जाने लगा और बिचौलियों के कारण होने वाला भ्रष्टाचार खत्म हो गया।



डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हर योजना को गरीबों के हितों का ध्यान में रखकर बनाते हैं और पिछले 5 वर्षों में उनके द्वारा बनाई गई योजनाएं इसका उदाहरण हैं। सरकार द्वारा बनाई गई सभी योजनाओं के लाभार्थियों की संख्या आज करोड़ों में है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने Zero Tolerance for Corruption का न सिर्फ नारा दिया बल्कि उसको लागू करके भी दिखाया। आज गरीबों के बैंक खातों में सीधा पैसा पहुंचने से सरकार को एक लाख करोड़ से भी अधिक की बचत होती है। इससे पहले यह पैसा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ जाता था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि मैं हर सुविधा लोगों के मोबाइल पर देना चाहता हूं जिसके लिए उन्होंने कई कार्य किए। पहले देश में मोबाइल बनाने की 1-2 कंपनियां होती थी लेकिन पिछले पांच वर्षों में इनकी संख्या बढ़कर सवा सौ हो गई है।

डॉ हर्षवर्धन ने लोगों से केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ लेकर स्वावलंबी बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि सरकार बैंको का पैसा लेकर भागे लोगों पर कड़ी कार्रवाई करेगी। कैंप में बैंकिंग संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिए बैंक अधिकारी भी मौजूद रहे।