28 अक्टूबर 2019 - केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन आज अन्नकूट या गोवर्धन पूजा के पावन पर्व पर दिल्ली के मचान वाले बाबा के मंदिर में आयोजित अन्नकूट महोत्सव में शामिल हुए। दीपावली के दूसरे दिन यानि आज गोवर्धन पूजा के साथ-साथ अन्नकूट पूजा की भी परंपरा है। अन्नकूट पूजा के दिन घर पर अलग-अलग पकवान बनाकर भगवान की पूजा करने की परंपरा काफी पुरानी है।



मूलतः यह प्रकृति की पूजा है जिसका आरम्भ श्री कृष्ण ने किया था। इस दिन प्रकृति के आधार के रूप में गोवर्धन पर्वत की पूजा की जाती है और समाज के आधार के रूप में गाय की पूजा की जाती है।

आपको बतादें, केंद्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन हर वर्ष इस त्यौहार पर किसी न किसी धार्मिक स्थल पर जाते हैं और इस पावन त्यौहार को लोगों संग मनाते हैं। केंद्रीय मंत्री ने भगवान श्रीकृष्ण को प्रणाम करते हुए कहा कि आज ही के दिन भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत उठा कर हम सब की रक्षा की थी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम भारत के लोगों का ये परम सौभाग्य है कि हमें भारत की इस महान धरती पर जन्म लेने का मौका मिला। उन्होंने गौ माता को याद करते हुए बताया कि गौ माता के अंदर 33 करोड़ देवी देवताओं का वास होता है और गौ माता को प्रणाम किया।

अयोध्या में राम मंदिर के बारे में बोलते हुए केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हम भगवान से प्रार्थना करते हैं कि माननीय कोर्ट से ऐसा आदेश आये कि हम सबको अपने ही हाथों से हमारे इस देश कि आत्मा और प्राण, हम सबके भगवान श्रीराम के जन्मस्थान पर उनका जो मंदिर है उसको हमारे हाथों से भव्य मंदिर बनाने का अवसर मिले।