10 अक्टूबर 2019: केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने भारतीय जनता पार्टी द्वारा महात्मा गांधी जी की जयंती से शुरू किए गए के सिंगल यूज प्लास्टिक से देश को मुक्त कराने के अभियान के तहत आज अपने संसदीय क्षेत्र में पदयात्रा की। उनकी गांधी‌‌ संकल्प यात्रा सदर विधानसभा के अंतर्गत शास्त्री बूथ, शास्त्री नगर से शुरू होकर सुभद्रा कॉलोनी, सराय रोहिल्ला थाना, पदम नगर, विवेकानंद पुरी, नई बस्ती, प्रताप नगर मेट्रो स्टेशन, किशनगंज, पहाड़ी धीरज होते हुए बाराटूटी चौक पर जाकर संपन्न हुई। पदयात्रा में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता श्री प्रवीन जैन, श्री जय प्रकाश, श्री अरविंद गर्ग, श्री हरी किशन गुप्ता, श्री जनकराज शर्मा, श्री चरण सेठी, श्री दीपक मित्तल के अलावा पार्टी के अन्य कर्मठ कार्यकर्ता मौजूद रहे।



इस दौरान डॉ हर्ष वर्धन ने सिंगल यूज प्लास्टिक का बहिष्कार करने, स्वच्छ भारत अभियान को गति देने व जल संरक्षण के प्रति लोगों को जागरूक किया। पदयात्रा के दौरान लोगों से मिलते हुए उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी जी की सोच थी कि देश को स्वच्छ किया जाए, क्योंकि स्वच्छ भारत ही रोग से मुक्त हो पाएगा। प्रधानंमत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी जी ने सबसे पहले स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर 2014 को देशभर में एक राष्ट्रीय आंदोलन के रूप में स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की गई थी, जो अब जन आंदोलन का रूप ले चुका चुका हैं।

सिंगल यूज प्लास्टिक पर अपनी बात रखते हुए उन्होंने कहा कि प्लास्टिक पूरी दुनिया के लिए बड़ा खतरा है। प्लास्टिक का इस्तेमाल रोकने के लिए हम सब लोगों को हाथ में हमेशा थैला लेकर चलना चाहिए और सिंगल यूज प्लास्टिक को ना कहना चाहिए। जल संरक्षण पर उन्होंने कहा कि जल के बिना कल की कल्पना नहीं की जा सकती। जल संरक्षण के प्रति सभी को जागरूक होना जरूरी है। अगर आज जल संरक्षित नहीं किया गया तो आने वाली पीढि़यों को जल कहां से मिलेगा।