16 अक्टूबर 2019: केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने खाद्य सुरक्षा को सशक्‍त बनाने और Eat Right India अभियान को गति देने के लिए देश के खाद्य नियामक के एक कार्यक्रम में कई पहलों का लोकार्पण करके 'विश्‍व खाद्य दिवस' मनाया। डॉ हर्ष वर्धन ने खाद्य सुरक्षा प्रशासन को सशक्‍त बनाने के प्रयोजन से FSSAI ने खाद्य सुरक्षा में छोटे और मध्‍यम स्‍तर के खाद्य कारोबारियों को सहयोग देने के लिए खाद्य सुरक्षा मित्र योजना का लोकार्पण किया, जिससे उन्‍हें लाइसेंस लेने, पंजीकरण कराने, स्‍वच्‍छता रेटिंग कराने और प्रशिक्षण लेने में सुविधा हो सके। खाद्य सुरक्षा को सशक्‍त बनाने के अलावा इस योजना से युवाओं, के लिए रोजगार के नए अवसर भी सृजित होंगे।



कार्यक्रम में FSSAI के निरीक्षण अधिकारियों के काम-काज को सरल बनाने के लिए डॉ हर्ष वर्धन ने आज Eat Right Jacket भी लॉन्च किया। यह जैकेट एक QR Code के साथ embed किया गया है। खाद्य सुरक्षा को सुनिश्चित करने की दिशा में यह एक बड़ी पहल है । इसके अतिरिक्त घरेलू कामगारों के लिए eat right ट्रेनिंग कोर्स का भी शुभारंभ किया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल पर Single Use Plastic के खिलाफ मुहिम को आगे बढ़ाते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने Eat Right Jhola (झोला) लॉन्च किया। यह झोला प्लास्टिक बैग का एक विकल्प है। इन झोलों को आप धो कर दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं। इस अवसर पर जरूरतमंदों तक भोजन पहुंचाने के लिए 'Save Food, Share Food' पहल का भी शुभारंभ हुआ। इसके तहत एक IVR platform बनाया गया है, जहां Helpline नंबर के जरिए भोजन दान करने वाले और एकत्र करने वाले जुड़े रहेंगे।

देश में Eat Right India अभियान को गति देने के लिए FSSAI को कई ख्याति प्राप्त व्‍यक्तियों का सहयोग मिला है। इस अवसर पर इस्तेमाल किए गए कुकिंग ऑयल का बायोडीजल के रूप में पुन: प्रयोग और पहले 1000 दिन नाम से दो लघु फिल्‍में भी जारी की गईं जो कि विराट कोहली और जूही चावला द्वारा अभिनीत की गई हैं। FSSAI ने देश में खाद्य की बेकारी को रोकने के लिए 50 से अधिक NGO को जोड़ने के उद्देश से एक ऑनलाइन प्‍लेटफॉर्म विकसित करने का विचार किया है| इसे विकसित करने के लिए नासकॉम फाउंडेशन से भी सहभागिता की है।

इस अवसर पर अपने संबोधन में केंद्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने FSSAI की प्रशंसा की और कहा कि नागरिकों को सुरक्षित खाद्य उपलब्‍ध कराने के प्रयासों में समाज के लगभग सभी वर्गों तक अपनी पहुंच बनाने के लिए FSSAI की सोच दूरदर्शितापूर्ण रही है। उन्‍होंने कहा कि इस प्रणाली में आम जन तक अपनी पहुंच बनाने वाले प्रसिद्ध व्यक्तियों के सम्‍मिलित होने से हम हर व्‍यक्‍ति तक पहुंच सकते हैं।

उन्होंने कहा कि आज सारी दुनिया का रूझान शाकाहार की तरफ है क्योंकि मांसाहार से कई तरह की बीमारियां होने की संभावना है। संतुलित भोजन से जहां हमें सभी तरह के पौष्टिक तत्व मिलते हैं वहीं हम बीमारियों से भी दूर रह सकते हैं। किसी देश में Eat Right India और Fit India जैसे कैंपेन जोर पकड़ लें और समाज उसे स्वीकारने लगे तो किभी भी स्वास्थ्य मंत्री के लिए इससे बड़ी खुशी की बात और क्या हो सकती है। उन्होंने कहा कि हमें क्या और कितना खाना चाहिए इसका ज्ञान हो जाए तो हम सौ साल तक जीवित रह सकते हैं। डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि मैंने लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए 700 Green Good Deeds बनाए थे और ये वो छोटे छोटे काम थे जिन्हें हम रोज इस्तेमाल करके स्वस्थ और पर्यावरण को साफ बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि मैंने अपनी किताब में लिखा है कि जो कठिन और असंभव काम होते हैं वे भी संभव हो सकते हैं लेकिन उसके लिए आपके अंदर एक इच्छाशक्ति और प्रतिबद्धता होनी होनी चाहिए। अगर आप कठिन परिश्रम करते हैं तो आपको लोगों का साथ और भगवान का आशीर्वाद दोनों मिलता है।

कार्यक्रम में विश्‍व के सर्वश्रेष्‍ठ पेशेवर पहलवान संग्राम सिंह ने ईट राइट आंदोलन के मंत्र का उच्‍चारण किया और कहा खाना भूख से कम, पानी दो गुना, व्‍यायाम तीन गुना और हँसना चार गुना। उन्‍होंने यह भी कहा कि असली संपत्‍ति तो सेहत है और जिनसे चुनौती मिलती है उसी से परिवर्तन आता है। इसलिए, स्‍वास्‍थ्‍य की चुनौतियों के लिए इस मंत्र को अंगीकार करें। इस अवसर पर FSSAI के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी श्री पवन अग्रवाल ने भी अपने विचार रखे ।