8 दिसंबर-2019: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन आज दिल्ली अग्निकांड की इस हृदय विदारक घटना की खबर सुन कर झांसी से दिल्ली वापस पहुंचे व एयरपोर्ट से सीधे अपने संसदीय क्षेत्र चांदनी चौक के रानी झांसी रोड स्थित घटनास्थल का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया। दिल्ली के इस भीषण अग्निकांड में 43 लोगों की मौत से व्यथित, केन्द्रीय मंत्री ने अधिकारियों से मामले की पूरी जानकारी ली। इस दौरान स्थानीय लोगों से भी मुलाकात की और कहा कि प्रशासन इस मामले में पूरी तरह से गंभीर है और घायलों को राहत पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा परिवार इस कठिन घड़ी में पीड़ित लोगों के साथ खड़ा है।



इसी क्रम में उन्होंने लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल पहुंचकर घायलों का हाल जाना। डॉक्टरों से भर्ती लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ली और उन्हें बेहतर इलाज मुहैया कराने के आदेश दिए। इस दौरान डॉ हर्ष वर्धन ने दिल्ली के इस भीषण अग्निकांड में अपनी जान की परवाह किए बिना 11 लोगों की जान बचाने वाले फायरमैन राजेश शुक्ला से मुलाकात कर उनका हाल जाना। राजेश शुक्ला अपनी जान की परवाह किए बगैर इस अग्निकांड में लोगों को बचाते हुए घायल हो गए थे।

एलएनजेपी अस्पताल के बाद केंद्रीय मंत्री ने लेडी हार्डिंग अस्पताल पहुंचकर अग्निकांड में घायल लोगों का हाल जाना और उन्हें भरोसा दिलाया कि सरकार हर कदम पर आपके साथ खड़ी है। इस दौरान अस्पताल प्रशासन व डॉक्टरों से घायलों को हर संभव मदद देने के निर्देश दिए। उसके पश्चात घायलों का हाल जानने के क्रम में डॉ हर्ष वर्धन राम मनोहर लोहिया अस्पताल भी पहुंचे और भर्ती लोगों से मिलकर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्होंने घायलों को उचित इलाज मुहैया कराने के लिए डॉक्टरों को निर्देश दिए।

इस घटना के पीड़ित परिवार के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने वित्तीय सहायता की घोषणा की है जिसमें मृतक के परिवार को 2 लाख रुपए एवं घायलों को 50,000 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इसके अतिरिक्त भाजपा, दिल्ली प्रदेश ने भी मृतक के परिवार को 5 लाख रुपए और घायलों को 25,000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।