7 दिसंबर-2019: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने आज एम्स जोधपुर के दूसरे दीक्षांत समारोह में सम्मिलित हुए। समारोह में मुख्य अतिथि माननीय राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद जी की उपस्थिति में MD के एक छात्र, MBBS के 92, MSc नर्सिंग के 13, BSc नर्सिंग के 66 छात्रों को डिग्री प्रदान की गई। एम्स जोधपुर के दीक्षांत समारोह में राजस्थान के राज्यपाल श्री कलराज मिश्रा जी, राजस्थान के CM श्री अशोक गहलोत जी व केंद्रीय जल शक्ति मंत्री श्री गजेंद्र सिंह शेखावत जी भी उपस्थित थे।



समारोह को संबोधित करते हुए माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी ने कहा कि देश में डॉक्टर और नर्स को अतिरिक्त सम्मान दिया जाता है, भगवान के बाद डॉक्टर का स्थान है। आप सब हमेशा यह सम्मान बनाए रखें और डॉक्टरी पेशे के उच्च मापदंड का पालन करें। दीक्षांत समारोह के बाद माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी ने एम्स जोधपुर के नये प्रशासनिक भवन का भी शिलान्यास किया। एम्स जोधपुर के दीक्षांत समारोह में माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद जी ने कहा कि स्वास्थ्य और शिक्षा का विकास में अहम योगदान है। इसलिए बेहतर चिकित्सा सुविधा एवं उच्च शिक्षा को गांवों तक पहुंचाने के प्रयास की जरूरत है। माननीय राष्ट्रपति जी ने डिग्री पाने वाले मेडिकल छात्रों से कम लागत वाले नैदानिक, उपचार और पुनर्वास सेवाओं को विकसित करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा कि यह संस्थान आज चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में एम्स दिल्ली के बाद दूसरे स्थान पर है। अगर यहां के छात्र व शिक्षक प्रतिबद्धता के साथ इसी तरह लगे रहे तो वो दिन दूर नहीं जब यह, AIIMS दिल्ली को पीछे छोड़ देगा। इस अवसर पर उन्होंने श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी व सुषमा जी को भी याद किया। उन्होंने कहा कि आज अगर हम सब इस दीक्षांत समारोह का हिस्सा बने हैं तो उसके पीछे अटल जी व सुषमा जी की दूरगामी सोच है। चिकित्सा क्षेत्र से अटल जी का गहरा रिश्ता था। डॉक्टर बनना सौभाग्य और ईश्वर का वरदान पाने जैसा है। लेकिन एक अच्छा डॉक्टर बनना एक बड़ी चुनौती है। यह आपका सौभाग्य है कि आज आप डॉक्टर बने हैं, लेकिन आने वाला समय और चुनौतियां तय करेंगी कि आप अच्छा डॉक्टर बन पाते हैं या नहीं। डॉ हर्ष वर्धन जी ने कहा कि देश के पास PM श्री नरेंद्र मोदी जी के रूप में एक ऐसा दूरदर्शी प्रधानमंत्री है, जिनका दिल हमेशा देश के गरीबों के लिए धड़कता है। उनके नेतृत्व में विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री होने के नाते मैं महसूस कर सकता हूं कि Science व Health दो अलग नहीं बल्कि एक ही Stream हैं।