20 जुलाई, 2019: केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने आज हैदराबाद में कोशिकीय एवं आणविक जीव विज्ञान केंद्र (सीसीएमबी) में नेक्स्ट जेनेरेशन सीक्वेंसिंग (NGS) सुविधा का उद्घाटन किया। CCMB अब एक दिन में 30 मानव जीनोम या 384 नैदानिक नमूनों को अनुक्रमित कर सकती है। इसके साथ हीं उन्होंने यहां एक एक'स्किलिंग, ट्रेनिंग एंड लेक्चर हॉल कॉम्प्लेक्स' व स्केलअप फैसिलिटी फॉर एग्रोकेमिकल्स की भी आधारशिला रखी। इस नए कॉम्प्लेक्स के बन जाने से से मेगा सेमिनार और प्रशिक्षण कार्यक्रमों जैसी गतिविधियों के आयोजन में मौजूद ढांचागत बाधाओं को दूर करने में मदद मिलेगी। नया कॉम्प्लेक्स अगले 10 महीनों में तैयार हो जाएगा।



स्केल-अप फैसिलिटी फॉर एग्रोकेमिकल्स की आधारशिला रखने के बाद केन्द्रीय मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि स्केल-अप फैसिलिटी फॉर एग्रोकेमिकल्स का शिलान्यास इस बात का प्रमाण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में मौजूदा केंद्र सरकार किसानों के हितों की रक्षा के प्रति बेहद गंभीर है। उन्होंने कहा कि यह देश के कृषि-रसायन उद्योग में नवाचार को बढ़ावा देगा।

इस दौरान शोधकर्ताओं और छात्रों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मेरे लिए खुशी की बात है कि में पिछले पांच साल से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ काम कर रहा हूं और ये देश के लोगों के लिए भी सौभाग्य की बात है कि 2014 और फिर 2019 में उन्हें नरेन्द्र मोदी जी प्रधानमंत्री के रूप में मिले। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 2022 तक देश को न्यू इंडिया में परिवर्तित करना चाहते हैं और उसके लिए वो कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जनहित की कई योजनाएं शुरू की हैं। हमारी सरकार देश के हर व्यक्ति तक वो सभी सुविधाएं पहुंचाना चाहती है जो एक व्यक्ति के जीवन स्तर को उठाने के लिए जरूरी है।