14 सितंबर 2019: अपने दो दिवसीय मणिपुर दौरे के दूसरे दिन आज केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने RIMS, Imphal के 48वें स्थापना दिवस व ग्रेजुएशन समारोह में शिरकत की। इस अवसर पर राज्य के सीएम एन बिरेन सिंह के अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन व विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े कई प्रबुद्ध लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ हर्ष वर्धन कहा कि आज 14 सितंबर है जिसे देश हिंदी दिवस के रूप में मनाता है। ये बड़ी विडंबना है कि भारत को अपनी आजादी के 72 वर्ष बाद देश के 135 करोड़ लोगों को हिंदी के संबंध में स्मरण कराने के लिए एक दिन मनाना पड़ रहा है कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है । 72 वर्ष के बाद भी देश को यह याद दिलाना पड़ता है ये बहुत दुख की बात है । उन्होंने RIMS, Imphal को पूरे NorthEast में Ranking में पहला स्थान पाने के लिए बधाई देते हुए कहा कि, इस संस्थान को यह उपलब्धि यहां के डॉक्टरों, टीचरों व छात्रों के संयुक्त प्रयास से मिली है। आपके द्वारा मरीजों को जो उत्कृष्ट सेवाएं प्रदान की यह उसी का रिजल्ट है।



14 September 2019: On the second day of his two-day Manipur visit, Union Health and Family Welfare, Science and Technology & Earth Sciences Minister Dr Harsh Vardhan attended the 48th Foundation Day and Graduation ceremony of RIMS, Imphal. Apart from the state CM, N Biren Singh, Central Health Secretary Preeti Sudan and many intellectual people from different fields were present on this occasion. Addressing the function, Dr Harsh Vardhan said that today is September 14, which the country celebrates as Hindi Day. It is a matter of great irony that after 72 years of its independence India has to celebrate one day to remind 135 crores of people of the country, that Hindi is our national language. Even after 72 years, the country has to be reminded of this, which is very sad. He congratulated RIMS, Imphal for standing first on the ranking ladder in the entire NorthEast. This institute has achieved this achievement through the joint efforts of doctors, teachers and students. This is the result of the excellent medical services you provided to the patients, he added.



डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि आपने पूर्व जन्म में कोई अच्छा कार्य किया होगा जो इस जन्म में डॉक्टर बनने का सौभाग्य मिला। डॉक्टर बनकर आपको अपनी जीविका कमाने के साथ मानव सेवा का भी अवसर मिलता है। उन्होंने मेडिकल छात्रों से अपील की कि उन्हें अपने प्रोफेसर की बातों को गंभीरता से सुनना चाहिए, क्योंकि मेडिकल की पढ़ाई के दौरान हर एक लेक्चर का अपना महत्व है । उन्होंने कहा कि जो भी आज यहां से बाहर जा रहे हैं मैं उनसे कहना चाहता हूं कि आपकी पढ़ाई अभी खत्म नहीं हुई है, आज आपकी पढ़ाई शुरू हुई है। अभी तक आप परीक्षा को पास करने के लिए पढ़ाई करते थे लेकिन अब आपकी पढ़ाई मरीजों के इलाज के काम आएगी। इसलिए जीवन में कभी भी पढ़ना मत छोड़िएगा।

Dr Harsh Vardhan said that you must have done some good work in your previous birth, by the virtue of which you have today become a doctor in this birth. By becoming a doctor, you get an opportunity to earn your livelihood as well as do human service simultaneously. He appealed to the medical students that they should listen to their professor seriously, as each lecture has its own importance while going through medical education. He said that whoever is going out of here today, I want to tell them that your studies are not over yet, your studies have started now. Till now you used to study to pass the exams, but now your studies will be useful for treating patients. Therefore, never stop studying in life.

उन्होंने कहा कि हमें ईमानदारी और सच्चाई की राह पर चलना चाहिए। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि ईमानदारी जीवन का शास्वत सत्य है। तुम अपने जीवन में चाहे कितनी भी खराब से खराब किस्मत लेकर भी पैदा हुए हो और सफलता के चरम पर पहुंचना चाहते हो, तो उसके लिए एक ही मार्ग है और वो है ईमानदारी। जीवन में ईमानदारी, सत्य, प्रेम और करूणा के भाव की जो शक्ति है उसे कभी हराया नहीं जा सकता है । डाक्टरों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि आप पर देश की बड़ी जिम्मेदारी है। आप सभी को देश में हेल्थ फॉर आल, आयुष्मान भारत योजना, हेल्थ एंड वेलनेंस सेंटर के साथ 2025 तक देश को टीवी से मुक्त करना और अन्य कई बीमारियों को जड़ से समाप्त करने के लिए मिलकर काम करना है। उन्होंने कहा कि इस समय भारत एक बहुत महत्वपूर्ण पड़ाव से होकर गुजर रहा है। हम लोग भाग्यशाली हैं कि हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में एक असाधारण प्रतिभा, असाधारण मेहनत और असाधारण जज्बे वाले प्रधानमंत्री मिले हैं। पिछले पाचं साल में जो नेतृत्व देखा है वो देश के लिए काफी महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के न्यू इंडिया के सपने की चर्चा करते हुए कहा कि इस सपने को साकार करने की जिम्मेदारी हम सबकी है। हमें अपने काम के अलावा समाज और देश को महानता की तरफ ले जाने की भी विशेष जिम्मेदारी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश को 2022 तक न्यू इंडिया में परिवर्तित करना चाहते हैं। वो कहते हें कि सभी देशवासी मिलकर न्यू इंडिया के सपने को साकार करने में सहयोग करें ।

He said that we should follow the path of honesty and truth. It cannot be denied that honesty is the eternal truth of life. No matter how bad luck you have been born with, if you aspire to reach the peak of success, then there is only one path for it and that is honesty. The power of honesty, truth, love and compassion in life, can never be defeated. Appealing to the doctors, he said that you have a big responsibility for the country. All of you in the country have to work together in order to free the country from TB and root out many other diseases by 2025 with Health for All, Ayushman Bharat Yojana, Health and Wellness Center. He said that presently India is going through a very significant phase. We are fortunate to have a Prime Minister like Shri Narendra Modi ji who has an extraordinary talent, extraordinary hard work, and extraordinary passion. The leadership that we have seen in the last five years is very important for the country. Referring to Prime Minister Narendra Modi's dream of New India, he said that we all have the responsibility to make this dream come true. Apart from our work, we also have a special responsibility to take society and country towards greatness. Prime Minister Narendra Modi wants to transform the country into New India by 2022. They say that all countrymen should cooperate in realizing the dream of New India.

इस बीच डॉ हर्ष वर्धन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में भारतीय जनता पार्टी द्वारा शुरू किए गए Sewa Saptah के तहत RIMS परिसर में सफाई अभियान में हिस्सा लिया व रेडियोथेरेपी वार्ड में मरीजों को मिठाईयां बांटी । इस मौके पर उनके साथ मणिपुर के सीएम एन बिरेन सिंह भी मौजूद रहे । इसके अलावा उन्होंने कई प्रसाशनिक बैठकों में भी हिस्सा लिया।

Meanwhile, Dr Harsh Vardhan participated in a cleanliness drive in the premises of the RIMS campus under the Sewa Saptah launched by the Bharatiya Janata Party to celebrate Prime Minister Narendra Modi's birthday and distributed sweets to patients in the radiotherapy ward. On this occasion, Manipur CM, N Biren Singh was also present with him. Apart from this, he also attended many administrative meetings.