भारत विकास परिषद द्वारा आयोजित दिवाली मिलन कार्यक्रम का डॉ हर्ष वर्धन ने किया उद्घाटन।


दिल्ली के पीतमपुरा के बी डी ब्लॉक में भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय कार्यालय में आयोजित दिवाली मेले का केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान सह पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन किया ।



नई दिल्ली (04 नवम्बर) दिल्ली के पीतमपुरा के बी डी ब्लॉक में भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय कार्यालय में आयोजित दिवाली मेले का केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान सह पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन किया । इस समारोह में परिषद् के वरिष्ठ पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं के अलावा बड़ी संख्या में स्कूली छात्र भी शामिल हुए।

इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि भगवान श्रीराम हमारे प्राण हैं और इस देश की आत्मा हैं। उनसे हमें त्याग, तपस्या, मर्यादा और मूल्यों की रक्षा करना सीखना चाहिए।

अपने संबोधन में डॉ वर्धन ने पर्यावरण संरक्षण पर बात करते हुए कहा कि उन्होंने जो ग्रीन गुड डीड्स की शुरुआत की है उसे सबसे पहले भारत विकास परिषद् ने अपने एजेंडे में शामिल किया और अपनी 1400 शाखाओं के माध्यम से पूरे देशभर में एक आंदोलन के रूप में विकसित करने का संकल्प लिया। इसी क्रम में हैदराबाद, बेंगलुरु और मुंबई में परिषद की शाखाओं ने ग्रीन गुड डीड्स की औपचारिक शुरुआत की। उन्होंने संस्था को बधाई देते हुए कहा कि अब दिल्ली की शाखा ने भी इस पर पहल की है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि दिवाली पर ग्रीन गुड बिहेवियर द्वारा पर्यावरण का ध्यान रखने की सबसे अपील की और बताया कि उनके मंत्रालय के वैज्ञानिकों ने पर्यावरण के लिए कम हानिकारक पटाखों का निर्माण किया है जो अन्य पटाखों की तरह ही फूटते हैं और कीमत भी कम है तथा हवा में प्रदूषण के कारकों की मात्रा भी कम उत्सर्जित करते हैं।