We will eliminate plastic very soon: Dr Harsh Vardhan


Addressing a function organised by UN Environment Chief Erik Solheim on the eve of World Environment Day, he said, for India the celebrations did not mark the culmination on June 5, but it would be the beginning.


New Delhi (June 04) – Environment, Forest and Climate Change Minister Dr Harsh Vardhan has promised, India will take effective steps towards a plastic-free nation very soon. Addressing a function organised by UN Environment Chief Erik Solheim on the eve of World Environment Day, he said, for India the celebrations did not mark the culmination on June 5, but it would be the beginning.

नई दिल्ली ( 4 जून) केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने भरोसा दिलाते हुए कहा कि भारत प्रभावी कार्यक्रमों के साथ बहुत जल्द ही प्लास्टिक मुक्त देश बनेगा। वे विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर सोमवार को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण के प्रमुख ऐरिक सोलेम की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह उत्सव विश्व पर्यावरण दिवस भर के लिए नहीं है, बल्कि यह तो हमारी शुरुआत है।

“Tomorrow for us it is not the beginning and for us we will truly make it big. Fortunately, we have a very dynamic Prime Minister at the helm of affairs right now, who is very passionate about people and people’s welfare issues and is very passionate about India, India’s progress. He only knows the language of success and he is not interested in failures. So tomorrow, we are going to get his message also. He is going to appeal not only to Indians, but he is going to appeal to the rest of the world and I promise Erik that we will certainly do something really big on this plastic front in the next couple of months, next couple of years.  We all appreciate that it is not something which we can do in a day. But I know that polio also took some years for Indians to see the last phase. We had to struggle for 17 years and we saw many ups and downs. But for plastic we will not let you wait for so long,” said Dr Harsh Vardhan.

उन्होंने कहा कि पर्यावरण दिवस का कार्यक्रम एक पहला कदम नहीं है, यह हम सभी के लिए बहुत बड़ा आयोजन है। सबसे सौभाग्य की बात है कि हमसभी के नेतृत्वकर्ता ओजस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। वे काफी जनता के प्रति काफी सजग और जन-कल्याणकारी विषयों के प्रति काफी गंभीर हैं। इसके लिए चिंतन-मनन करते हैं। उन्होंने कहा कि भारत प्रगति पर है और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सफलता की गाथा लिखना जानते हैं। वह विफलता में विश्वस नहीं रखते हैं। आप सभी पर्यावरण दिवस पर उनके विचारों को सुनेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिर्फ भारत को ही नहीं, बल्कि दुनिया को भी अपनी वाणी से ओतप्रोत करेंगे। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण के प्रमुख ऐरिक सोलेम से वादा करते हुए कहा कि हम लोग आने वाले वर्षों एवं कुछ महीनों में निश्चित रूप से प्लास्टिक को लेकर कुछ बड़ा काम करेंगे। एक दिन में कुछ नहीं हो सकता है बल्कि, हम लोगों ने पोलियो पर 17 सालों के संघर्ष के बाद भारत को अंतिम चरण पहुंचाया है। इसके लिए हम सभी बधाई के पात्र है, मगर प्लास्टिक के लिए आप सभी को इतना लंबा इंतजार नहीं करना होगा।

Erik Solheim said, the grandeur and extent of World Environment Day celebration, with India as global host was the most impressive one than by any other nation since it began in 1974. He also had a word of praise for Dr Harsh Vardhan for launching Green Good Deeds, a social movement to mitigate the impact of pollution and environmental degradation.

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण प्रमुख एरिक सोलेम ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस को 1974 से अनेक राष्ट्रों ने वैश्विक मेजबानी की है, मगर भारत के मेजबानी की भव्यता अदभूत है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन से कहा कि आपका ग्रीन गुड डीड्स एक सामाजिक आंदोलन है। इससे प्रदूषण से मुक्ति मिल सकती है और पर्यवारण की रक्षा भी की जा सकती है।

“Even today we can say that it has never been like this. Many nations have arranged to host World Environment Day. No one has ever done what you have done. If you see the resonance on social media here in India and the rest of the world, it was amazing …any number of people following these events – young people, people from all ages, all over the world. I start by thanking you Shri Harsh Vardhanji and without you this wouldn’t have happened. I am a great fan of yours for the Green Good Deeds because of what individuals can do. But this success of World Environment Day in India is due to the fact that they mobilised the three main sources of our society – citizens, business and government,” said Erik Solheim.

श्री सोलेम ने कहा कि आज मैं यह कह सकता हूं कि इसी देश ने इस तरह की व्यवस्था कभी नहीं की। कई देशों ने विश्व पर्यावरण दिवस की मेजबानी की है। लेकिन, जिस तरह का आयोजन भारत ने किया है। वैसा किसी ने नहीं किया है। भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में सोशल मीडिया पर इसकी गूंज सुनाई दिया। यह बिल्कुल सोच से परे है। अनगिनत लोग इस समारोह को देखे हैं। युवा ही नहीं, हर उम्र के लोग जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि मैं डॉ. हर्ष वर्धन जी पर सोचता हूं कि आपके बिना यह संभव नहीं हो पाता। मैं आपके ग्रीन गुड डीड्स का प्रशंसक हूं। क्योंकि इससे व्यक्ति स्तर पर भी व्यवहार में ला सकता है। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में विश्व पर्यावरण दिवस की सफलता में समाज के तीन महत्वपूर्ण कारक हैं जनता, बिजनेस मैन और सरकार।

UN Environment’s Goodwill Ambassador and Bollywood actor Dia Mirza introduced two crusaders of plastic pollution – Rajeshwari Singh, who walked 1,100 kms in 45 days from Vadodara to Delhi covering 22 cities to spread awareness about the need to “Beat Plastic Pollution”.

संयुक्त राष्ट्र पर्यवारण की गुडविल एम्बेसडर और बॉलीवुड अभिनेत्री दीया मिर्जा प्लास्टिक प्रदूषण को लेकर काम वाले दो लोगों का परिचय कराया। राजेश्वी सिंह ने 45 दिन 1100 किलोमीटर की यात्रा कर दिल्ली पहुंची। इस दौरान इन्होंने 22 शहरों में बीट प्लास्टिक पॉल्यूशनके प्रति लोगों को जागरुक किया है। 

The other crusader against plastic pollution was Mumbai-based lawyer Afroz Shah, who had spearheaded a campaign to clean up 2.5 km stretch of Versova Beach in Mumbai.  UNEP had lauded Shah’s efforts to lead the largest beach clean-up drive in the world.

जबकि दूसरे हैं मुंबई के वकील अफरोज शाह। इन्होंने मुंबई के 2.5 किलोमीटर लंबे वर्सोवा समुद्र तट पर अभियान चलाकर सफाई की है। संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम ने भी इनके कार्यों की सराहना की और कहा कि वर्सोवा समुद्र तट का सफाई अभियान दुनिया में सबसे बड़ा बीच सफाई का अभियान है।

The guests were entertained by Grammy Award winning musician Ricky Kej, who was made UN Peace Ambassador. Ricky has dedicated his life and music to Environmental Consciousness.

कार्यक्रम में ग्रैमी अवार्ड सम्मानित संगीतकार रिकी केज ने प्रस्तुति दी। ज्ञात हो कि रिकी संयुक्त राष्ट्र पीस के एम्बेसडर हैं। इनका पूरा जीवन और संगीत पर्यावरण के समर्पित है।