Dr Harsh Vardhan urges medical fraternity to build a social movement around Green Good Deeds


Dr Harsh Vardhan has urged the medical fraternity to build a social movement around Green Good Deeds. Inaugurating a seminar on the adverse effects of air pollution on health, organised by the Delhi Medical Association, he said doctors have a crucial role to play in this regard.


New Delhi (June 06) – Environment, Forest & Climate Change Minister Dr Harsh Vardhan has urged the medical fraternity to build a social movement around Green Good Deeds. Inaugurating a seminar on the adverse effects of air pollution on health, organised by the Delhi Medical Association, he said doctors have a crucial role to play in this regard.

नई दिल्ली। केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि 1994 में  जिस तरह से दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन पल्स पोलियो अभियान की पहल की थी। ठीक उसी तरह पर्यावरण की रक्षा के लिए ‘ग्रीन गुड डीड्स’ अभियान से जुड़कर इतिहास रच सकता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन ने अपनी स्वयं की प्रेरणा से इस काम को अपने हाथ में लिया है। इसी तरह देश भर के डॉक्टर इस अभियान का भी नेतृत्व करेंगे। वहीं दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि इस देशभर के करीब 3000 चिकित्सक ग्रीन एम्बेसडर बनकर पर्यावरण की रक्षा करेंगे।

Dr. Harsh Vardhan emphasised, doctors have a huge role in checking pollution, especially plastic pollution.  A presentation made on the occasion pointed out that air pollution leads to higher incidence of respiratory illnesses, chronic obstructive lung disorder and other such illnesses. It suggested that planting more saplings and consuming more fruits and vegetables can help reduce the ill-effects of pollution.

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन की ओर से पर्यावरण दिवस के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से सभी पेशे की अपनी-अपनी जिम्मेवारी होती है। ठीक उसी तरह पर्यावरण की रक्षा के लिए हम सभी की ‘हरित सामाजिक जिम्मेवारी’ है। चिकित्सकों की पहुंच परिवार, समाज, गांव, जिला, राज्य सभी जगह है। आप सभी समाज में पर्यावरण संरक्षण के लिए नेतृत्व कर सकते हैं। आप सभी समाज में लोगों को प्रेरित कर सकते हैं। ऐसा होने पर यह एक ऐतिहासिक कार्य हो सकता है।

To mark the World Environment Day celebrations, Dr. Vardhan released a poster depicting the Greed Good Deeds to save the environment, so that the message of doing one small, green act every day can be disseminated to people through different walks of life.  Delhi Medical Association is creating a National Task Force to launch a ‘No Plastic Campaign’.

उन्होंने कहा कि समाज में पर्यावरण के लिए लोग काम करना चाहते हैं। उन्होंने मुंबई के अफरोज शाह की चर्चा की। ये जाने कई सप्ताह से वर्सोवा समुद्र तट की सफाई करते रहे हैं।

इस वर्ष का थीम बीट प्लास्टिक पॉल्यूशन है। प्लास्टिक का कचरा गलने में करीब 500 वर्ष लगता है। यह पर्यावरण को प्रदूषित करता है। उन्होंने कहा कि मात्र 60 फीसदी प्लास्टिक का पुनरावर्तित होता है। बाकी कचरे में तब्दील हो जाता है। प्लास्टिक से नालियां जाम हो जाती हैं। नदी और समुद्र में प्रदूषण होता है। यह जीव, जानवर एवं मच्छलियों के लिए काफी खतरनाक भी है।

The Minister also administered an “Environment Pledge” to the assembly of doctors to work for the creation of a clean, healthy and pollution-free environment. 

Honorary State Secretary, DMA, Dr. G.S. Grewal suggested that plastic in hospitals should also be replaced by biodegradable products.

उन्होंने कहा कि एक बार उपयोग में आने वाले प्लास्टिक के प्रयोग को खत्म करने के लिए गंभीरतापूर्वक कदम उठाने की जरुरत है। इसके लिए आप चिकित्सक अपने आस-पास समाज के लोगों को जोड़ सकते हैं। इससे आपकी प्रतिष्ठा और बढ़ेगी। उन्होंने अनुरोध किया कि इस मुहिम से बच्चों, स्कूल से वंचित बच्चों, गुरुद्वारों एवं अन्य संस्थाओं को जोड़ें। मैं यह दावे के साथ कह सकता हूं कि आज का दिन इतिहास लिखने का दिन हो सकता है।

The moderator of the programme, Dr. Harish Gupta, assured the minister  that doctors will join the campaign of Green Good Deeds in large numbers, as in the case with the Pulse Polio programme.

इस अवसर पर चिकित्सकों ने शपथ भी लिया। शपथ लेते हुए कहा कि दिल्ली के सभी चिकित्सक पूर्ण निष्ठा एवं समर्पण के साथ संकल्प लेते हैं कि पर्यावरण की रक्षा में सक्रिय योगदान देंगे।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. हरीश गुप्ता किया। जबकि डॉ. जीएस ग्रेवाल, डॉ. गिरीश त्यागी, अश्विनी गोयल सहित तमाम दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के तमाम पदाधिकारी मौजूद थे।